खण्ड-खण्ड अग्नि
दिविक रमेश

पात्र
उद्घोषणा, सन्नाटा, अग्नि, जन-समूह, राम, हर्ष, सूचना, सीता, हनुमान, सरमा (विभीषण की पत्नी), विश्वास, लक्ष्मण, सुग्रीव, उत्तरदायित्व, संदेह, उत्सुकता, पृथ्वी
(नोट: उद्घोषणा, सन्नाटा, हर्ष, सूचना, उत्सुकता, विश्वास, उत्तरदायित्व, पृथ्वी और संदेह ऐसे पात्र हैं जो शेष पात्रों के लिए अदृश्य हैं।)
दृश्य
01 दृ्श्य
02 दृश्य
03 दृश्य
04 दृश्य
05 दृश्य