अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
12.10.2007
चंदन-पानी
रचियता : दिव्या माथुर

चंदन पानी का विमोचन
दिव्या माथुर




बाएँ से डॉ. सत्येन्द्र श्रीवास्तव, कैलाश वाजपेयी, आनन्द शर्मा, दिव्या माथुर और अशोक चक्रधर

१४ फरवी, २००७ को अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दी महोत्सव के अवसर पर श्री आनन्द शर्मा (सांस्कृतिक राज्य मंत्री, भारत) ने दिव्या माथुर के पाँचवें काव्य संकलन – चंदन पानी का विमोचन एफ़ आई सी सी आई के ऑडिटोरियम, नई देहली में किया। इस अवसर पर प्रसिद्ध कवि कैलाश वाजपेयी, अशोक चक्रधर और प्रकाशक एन.के वर्मा (डायमंड पाकेट बुक्स) भी उपस्थित थे। इस पुस्तक की प्रस्तावना डॉ. पवन के. वर्मा ने लिखी है जो कि इण्डियन काउंसिल ऑफ़ कल्चरल रिलेशनज़ के डाइरेक्टर जरनल हैं। इस संकलन की कविताएँ मानवीय संबन्धों पर आधारित हैं।

 यह महोत्सव इण्डियन काउंसिल ऑफ़ कल्चरल रिलेशनज़, साहित्य अकादमी और अक्षरम के सहयोग से १२ से १४ फरवरी तक मनाया गया। इसके विभिन्न सत्रों में वार्ताओं, विचार-विमर्श के अतिरिक्त निखिल कौशिक का चलचित्र भविष्य द’ फ़्यूचर दिखाई गई। नलिनी कमलिनी ने नृत्य प्रस्तुत किया, प्रेमचंद की कहानी रंगभूमि को मंचित किया गया और अन्त में के कवि सम्मेलन भी आयोजित किया गया।

  


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें