डॉ० यू० एस० आनन्द


कविता

किस रास्ते
तुम्हारी वह मुस्कान
तुम
दोहे
दोहे आनन्द के
सदा रहे ऋतुराज (दोहे)

लघु-कथा

तलाक़ 
ब्रेक
लालसा
व्यामोह

बाल-साहित्य

लाली चिड़िया और मुनमुन