अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
05.31.2008
 

हवा के नीचे और ऊपर
तरुण भटनागर 


जमीन और आकाश के बीच,
सिर्फ़ हवा है।

पर सुना है,
आदमी,
जमीन और आकाश,
दोनों जगह रहते हैं।

वे हवा के नीचे,
और हवा के ऊपर,
दोनों जगह हैं।

सुना था,
नानी की कहानियों में,
आकाश में रहने वाले आदमियों के बारे में,
और फिर,
इच्छा हुई कि वहीं जाकर रहूँ।

पर जब चेतना आई,
तब लगा,
लोग इस तरह आकाश में,
हवा के ऊपर कैसे रह लेते हैं?


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें