अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
10.22.2014

 
परिचय  
 
नाम :

सुमीता प्रवीण, मुम्बई

जन्म : १३ मई, हल्दवानी उत्तरांचल
प्रकाशन : प्रकाशित पुस्तकें :
उपन्यास: संबंध, एक पहल ऐसी भी (सरोगेट माँ संबंधित ), मैं स्वयंसिद्धा
काव्य संग्रह: चाय की चुस्कियों में तुम (२०१४) - अभिनेत्री हेमा मालिनी और डॉ. अज़ीज़ क़ुरैशी (उत्तराखंड के राज्यपाल) द्वारा विमोचित (प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी पत्र भेजा)
साहित्य कर्म : लेखिका और कवयित्री
हिन्दी की पुस्तकों की समीक्षक
आल इंडिया रेडियो की अतिथि वक्ता
राजनैतिक विचार स्तंभकार, स्वतंत्र पत्रकार
गीत लेखिका
विशेष उपलब्धियाँ : झारखंड के राज्यपाल डॉ. सईद अहमद, जो स्वयं प्रसिद्ध हिन्दी-उर्दू साहित्यकार हैं का साक्षात्कार
महाराष्ट्र हिन्दी साहित्य एकैडमी के अध्यक्ष मि. दामोदर खाडसे का साक्षात्कार
माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का शुभकामना पत्र कविता संग्रह 'चाय की चुकियों में तुम' के लिए ।
पत्रकारिता : एफ़एम रेडियो श्रोताओं के लिए राष्ट्रीय घटनाओं/ अवसरों के दौरान विविध विषयों पर लिखने के बाद आल इंडिया रेडियो पर उनकी प्रस्तुति
प्रसिद्ध प्रकाशन घर "पॉपुलर प्रकाशन" के लिए इंग्लिश कॉमिक्स का हिन्दी अनुवाद कार्य
करियर की शुरूआत प्रसिद्ध हिन्दी प्रकाशनों "हिन्दमाता" और "उत्तर भूमि" के राजनैतिक स्तंभकार के रूप में
सम्मान/उपलब्धियाँ : मदरस डे पर दैनिक जागरण समूह द्वार सम्मानित
जनवरी २०१२ में हिन्दी विभाग, बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय, वाराणसी द्वारा मुख्य वक्ता के रूप में आमंत्रित
हिन्दी साहित्य और हिन्दी भाषा के अथक प्रचार-प्रसार कार्य के लिए २०१२ में उत्तराखंड महा संघ द्वारा मुम्बई में पहली उत्तराखंडी महिला का सम्मान प्राप्त हुआ
राजस्थानी सेवा संघ द्वारा स्वर्ण जयंती के अवसर पर २०१२ में "गौरव सम्मान"
हिन्दी साहित्य की श्रेष्ठ सेवा हेतु २०११ में जे.जे.टी. यूनिवर्सिटी द्वारा "साहित्य सेवा सम्मान"
थाईलैंड में ४वें अंतरराष्ट्रीय हिन्दी सम्मेलन २०११ में "सृजन श्री" सम्मान
२००८ में इंडो-नेपाल सांस्कृतिक संस्था द्वारा सम्मानित
संप्रति : महिलाओं की संस्था "विश्व मैत्री मंच" की मैनेजिंग डायरेक्टर
उत्तराखंड साहित्य फोरम सह संयोजक
अंजुमन संस्था की महासचिव
अन्य : अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर और हिन्दी न्यूज़ चैनल (इलेक्ट्रॉनिक) पर कविता पाठ
राजस्थान के इतिहास पर एक गीत का लेखन जिसका आधिकारिक विमोचन अप्रैल २०१२ में राजस्थानी सेवा संघ द्वार किया गया। उत्तराखंडी गीत भी लिखे हैं।
विभिन्न महिलाओं संबंधित संस्थाओं के लिए समाज सेवा
सदस्य : फ़िल्म राइटर्स एसोसिएशन की सदस्या
सम्पर्क : sumitakeshwa@yahoo.com