अंन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली

मुख्य पृष्ठ

10.23.2007

 
परिचय  
 
नाम : सन्तोष गोयल
शिक्षा :
  • एम. ए. हिन्दी (पंजाब विश्वविद्यालय में स्वर्ण पदक प्राप्त)
  • पी.एचडी ‘निराला का काव्य‘
  • लिंग्विस्टिक्स में डिप्लोमा
  • लिंग्विस्टिक्स का विशेष अध्ययन न्यूकैसल विश्वविद्यालय इंग्लैंड      
  •   पी. एचडी की उपाधि के लिए किए जाने वाले शोध ग्रन्थ का निर्देशन
पुरस्कार तथा सम्मानः
  •  ”झूला” कहानी संग्रह पर राष्ट्रीय पुरस्कार
  • केन्द्रीय हिन्दी निदेशालय मानव संसाधन विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा
  • भारतवर्षीय जैन संस्था द्वारा ‘जैन लेखिका रत्न सम्मान‘
  • लोक संस्कृति संस्थान द्वारा “अभी कुछ नहीं बीता” कविता संग्रह पुरस्कृत
  • ‘कल्पतरु’ साहित्यिक संस्था दिल्ली द्वारा ‘कथा विदुषी सम्मान‘
  • ‘अवन्तिका‘ द्वारा शिक्षक तथा लेखिका सम्मान
  • भारतीय भाषा सम्मेलन‘ दिल्ली द्वारा लेखिका सम्मान
  • ‘एशियाटिक ऑथर्स एसोशियेशन ‘केनेडा‘ द्वारा साहित्यकार सम्मान
  • मंजूषा लेखिका मंच द्वारा ‘ साहित्यिक प्रतिभा सम्मान’
 

राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय संगोष्ठियाँ जिनमें प्रपत्र वाचन कियाः

  •  अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दी कान्फ्रेन्स दिल्ली में सन् १८८८, १९९१, १९९२, १९९५, १९९६, २०००, २००३.
  •  अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दी कान्फ्रेन्स मारिशस में सन् १९९५, १९९८.
  •  अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दी कान्फ्रेन्स भोपाल में सन् १९९६.
  • महिला लेखिका सम्मेलन उदयपुर एवं भोपाल
  • साहित्यकार सम्मेलन  कलकता एवं मुम्बई
  • हिन्दी अकादमी द्वारा आयोजित संगोष्ठियो में कवि रहीम तथा कवि कबीर पर प्रपत्र वाचन
  • अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दी कान्फ्रेन्स एडमिन्टन केनेडा  १९९९
  • ‘हमकलम’ साहित्यिक संस्था ओटवा केनेडा  के सेमिनारज़ २००१, २००२, २००३, २००५ २००६
  •  अन्तर्राष्ट्रीय रामायण कान्फ्रेन्सज में प्रपत्र वाचन एवं अध्यक्षताः
  • नागरी प्रचारिणी सभा मारिशस     १९९१ 
  • लेवेन यून्विर्सिटी बेलजियम        १९९३
  • बाली  इन्डोनेशिया               १९९६
  • शेनज़ेन  चीन                   १९९७
  • फ्लोरिडा यूनिवर्सिटी   अमेरिका     २००० २००२
  • होबोकोन यूनिवर्सिटी   न्यूयार्क      २००३
साहित्यिक लेखन :

कहानी संग्रह :

  • सामने वाला आदमी
  • सुलगती नदी
  • सीढ़ियाँ तथा अन्य कहानियाँ
  • झूला
  • जड़ें तथा अन्य कहानियाँ
  • चर्चित कहानियाँ
  • कोना झरी केतली

सम्पादित कहानी संग्रह :

  • अपना अपना विश्वास
  • मेरी तेरी ज़मीन

सम्पादित निबन्ध संग्रह

  • नारी : एक सफर
  • दिनेश नन्दिनी डालमिया : एक परम्परा

कविता संग्रहः

  • अभी कुछ नहीं बीता
  • निषेध कहीं नहीं
  • चक्षुपथ
  • जारी है सफरः

उपन्यासः

  • धराशायी
  • रेतगार
  • ’अ इतिहास‘  असमिया की प्रसिद्ध लेखिका ”मामोनी रोसम इन्दिरा गोस्वामी” रचित उपन्यास का हिन्दी में अनुवाद
  • ‘खून रंगे पन्ने’ “मामोनी रोसम इन्दिरा गोस्वामी” रचित उपन्यास का हिन्दी में अनुवाद

आलोचनाः

  • युग निर्माता कवि :  निराला
  • रामकथा : एक मनोचिकित्साप्रणाली
  • बीसवीं सदी : कुछ प्रश्न
  • कम्पयूटर : एक परिचय
  • जनसम्पर्क तथा विज्ञापन
  • कम्प्यूटर का सरल परिचय हिन्दी में

विशेष अनुसंधान

  • हिन्दी उपन्यास कोश १८७० १९८०  तीन खण्ड
  • १०० वर्ष के हिन्दी उपन्यास लेखन की सम्पूर्ण परिचयात्मक यात्रा
  •  हिन्दी के मौलिक व साहित्यिक स्तर के उपन्यासों की वैज्ञानिक एवं वर्गीकृत सूची परिचय तथा आवश्यक विवरणसहित प्रस्तुत करने वाला यह एकमात्र ग्रन्थ है जो हिन्दी को शोधार्थियों के लिए उपयोगी होने के साथ साथ अन्य भाषा भाषियों के लिए तुलनात्मक शोधकार्य के लिए भी अनिवार्य है

अंग्रेज़ी में :

  • The Swing and other stories
  • She: in search of light(Novel)
  • International Seminar on Folklore , Delhi University Delhi --published
  • 'Roots and other stories' Translated  by Ramma kamara -- a well known Canadian author   published by National Publishers

निरन्तर लेखन

  •  हंस, सप्ताहिक हिन्दुस्तान, नव भारत टाईम्स, सारिका, वामा, सन्डे आबज़र्वर आदि पत्र पत्रिकाओं में निरन्तर प्रकाशन
  • दूरदर्शन तथा आकाशवाणी में कार्यक्रम
    · मारिशस तथा बी.बी.सी. लन्दन तथा एशियन टेलिविजन नेटवर्क कनाडा तथा चिन रेडियो ओटवा केनेडा में ‘अतिथि रचनाकार कार्यक्रम‘ के अन्तर्गत साक्षात्कार

अनुवादः

  • ’झूला’ कहानी का पंजाबी उर्दू मलयालम अंग्रेज़ी तथा असमिया मे अनुवाद हुआ
  • ’सामने वाला आदमी’ प्रथम कहानी जो ‘साप्ताहिक हिन्दुस्तान‘ में प्रकाशित हुई थी का अंग्रेज़ी, मराठी, पंजाबी तथा उर्दू में अनूदित हुई
  • ‘झरते पत्ते के बदलते रंग‘ कहानी कन्नड़ में अनूदित
  • सन् १९९६ तथा १९९८ में क्रमशः ‘रस्सी‘ तथा ‘सजा‘ सर्वश्रेष्ठ कहानियाँ चुनी गयीं

प्रकाश्यः

  • The slope and other stories
  • ‘Sanddunes’ Novel

सन्तोष गोयल की रचनाओं पर शोध कार्य

  • ‘जड़ें‘ कहानी संग्रह पर कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से एम.फिल. की उपाधि के शोध कार्य हुआ
  • ‘रेतगार‘ उपन्यास पर कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय से एम.फिल. की उपाधि के शोध कार्य हुआ
  • ‘सन्तोष गोयल के लेखन में नारी‘ पी.एच.डी की उपाधि के लिए शोध
  • ‘सन्तोष गोयल के कथा साहित्य में मानव मनोविज्ञान’ पी.एच.डी. की उपाधि के लिए शोध
साहित्य संस्थाओं से सम्बन्धः
  •  महामंत्री ‘ऋचा‘ सहित्यिक मंच
  •  अध्यक्ष : ‘हमकलम’ अभिव्यक्ति मंच – ओटवा (केनेडा) तथा गुडगाँव (हरियाणा)
  •  सदस्य - विमेन कान्फ्रेन्स दिल्ली
  • सदस्य - (Indian society of Authors)
  • सदस्य - Dialogue – a Literary society
  • सदस्य - samvaad – Literary society
आजकल विशेषः मुख्य सम्पादक : “ऋचा” साहित्यिक पत्रिका
सम्पर्क :
ब्लॉग :