अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली

मुख पृष्ठ
02.27.2014


दस्तावेज़ कीमती है

दस्तावेज़ कीमती है
इस बात को तुम जानो

चिल्ला रहा सच देखो
भीड़ भरी दुनिया में
सच को सच नहीं माने
ये दुनिया वाले देखो

दस्तावेज़ कीमती है
इस बात को तुम मानो

दस्तावेज़ बिन सच कहाँ
सच तो दस्तावेज़ है
ज़रूरत है ज़िन्दगी को
मुर्दे को दस्तावेज़ की

दस्तावेज़ कीमती है
इस बात को तुम जानो


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें