अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
06.02.2016


आईडिया

गोरी चमड़ी वाला अपनी गर्लफ्रेण्ड के साथ हिंदु रीति से विवाह का एक्साईटमेंट लेने मण्डप पर पहुँचा। विवाह के लिए कृत्रिम वातावरण बनाया गया। पण्डित बोलते दुभाषिये दुल्हा-दुल्हन के वेश में बैठे अंग्रेजों को उसका अर्थ समझाते। पण्डित जी बोले, अब एक बार अग्नि को साक्षी मान कर सात फेरे ले लिये तो सात जन्मों तक पति-पत्नी का पवित्र रिश्ता बन जायेगा। जैसे ही दुभाषिये ने इसका अर्थ समझाया तो पश्चिमी युवाओं के चेहरे का रंग उड़ गया।

“व्हॉट?, सेम हस्बेण्ड इन सेवेन मोर बर्थ्स टु कम?”, लड़की विचलित हो गई ”नो, आई एम नॉट गोईंग टु लीव विद यू थ्रूआउट दिस लाईफ, एण्ड यू से अबाउट सेवन मोर बर्थ्स टु कम” (मैं इस जीवन में ही तुम्हारे साथ पूरी जिन्दगी नहीं रहूँगी और तुम सात आने वाले जन्मों की बात कर रहे हो) लड़का भी उसकी बात से सहमत था। बोला, “आई एम सॉरी, आईडिया कैंसिल।”


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें