अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
10.26.2014


दीपावली संदेश

ऋषियों मुनियों के आने जाने के दिन,
अच्छा बुरा समझने व समझाने के दिन,
ज्ञान फैलाने व अज्ञान मिटाने के दिन,
खुशियाँ बाँटने, हँसने तथा हँसाने के दिन।

दीपावली आती साथ वह सब संदेश लिये,
अंतर में करें उजाला, भागे दूर अँधियारा,
ऐसा जगमग राष्ट्र बने, शांति के जलें दिये,
संसार से हो आंतक दूर, लाये सुख हर दिन।


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें