अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
03.28.2017

 
परिचय  
 
नाम : प्रो. रमानाथ शर्मा
प्रोफेसर आव संस्कृत, युनिवर्सिटी ऑफ़ हवाई,
होनोलुलु, हवाई 96822
जन्म : छाता, बलिया (उत्तर-प्रदेश), भारत (1939)
शिक्षा : - बी. ए. (काशी हिन्दू विश्वविद्यालय, 1957)
- एम.ए. (हिन्दी, इलाहाबाद, 1959)
- एम.ए (भाषाविज्ञान, के. एम. इंस्टीट्यूट, आगरा, 1962)
- पीएच.डी. (भाषाविज्ञान, युनिवर्सिटी आव राचेस्टर, न्यूयार्क, 166-1970)
अध्यापन : - भाषाविज्ञान और हिन्दी (प्रयाग विश्वविद्यालय, 1962-1966)
- भाषा-विज्ञान; हिन्दी भाषा, युनिवर्सिटी आव राचेस्टर, राचेस्टर, न्यूयार्क (1970-19760)
- संस्कृत तथा हिन्दी , युनिवर्सटी आव हवाई, होनोलुलु, हवाई (1976-अब तक)
लेखन : - इलाहाबाद के दिनों तक हिन्दी में अनेक कविताएँ और आलोचनात्मक निबंध प्रसिद्ध पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित। हजारीप्रसाद द्विवेदी, विद्यानिवास मिश्र और नामवर सिंह के निकट सम्पर्क में रहे। निराला को उनके जीवन के अन्तिम वर्षों में नजदीक से देखा। राम की शक्तिपूजा को हिन्दी की सबसे अच्छी कविता मानता हूँ।
- अमरीका आने पर हिन्दी लेखन स्वान्तः सुखाय बन कर रह गया। वैसे कई निबन्ध और कविताएँ प्रकाशित हुए हैं, कई कविताएँ और निबंध पुरानी फाइलों से निकाले जा रहे हैं, दो-चार नए निबंध लिखे भी जा रहे हैं।
- भाषाविज्ञान और भारतीय भाषा विज्ञान की परंपरा में पाणिनि की अष्टाध्यायी पर शोध और उसके प्रकाशन में बीस से अधिक वर्ष बीते। पाणिनि व्याकरण पर 10 में खण्डों का शोध, 6 खण्ड प्रकाशित, चार प्रकाश्य।
इन्हीं के साथ छोटे-बड़े अनगिनती शोध निबन्ध भी। अंगरेजी लेखन से अन्तर्राष्ट्रीय ख्याति मिली।
सम्पर्क : rsharmaphd@gmail.com