अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
10.15.2007
 
निःशब्द फिर भी शब्द होते हैं
रचना सिंह

शब्दों को शब्द खींचते हैं
शब्दों से शब्द खिचते हैं
शब्दों में शब्द होते हैं
निःशब्द फिर भी शब्द होते हैं

अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें