अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
10.14.2007
 
दो पल
रचना सिंह

एक तुम एक मैं
एक प्यार एक समर्पण
एक दूरी एक नज़दीकी
एक लेना एक देना
एक रास्ता एक मंज़िल
एक मिलना एक पाना
एक जाना एक बिछड़ना
एक मौत एक ज़िन्दगी
एक बसंत एक पतझर
एक रात एक दिन
एक तुम एक मैं


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें