अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
05.03.2012
 

समीकरण
रचना श्रीवास्तव


माँ पिता पालते हैं
चार बच्चे खुशी से
               पर चार बच्चों पे
               माँ पिता भारी हैं
                           ये कलयुग का समीकरण है


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें