अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
05.03.2012
 

प्यारी दुनिया
रचना श्रीवास्तव


हे भगवान
तुमने प्यारी दुनिया बनाईं
सुंदर रंगों से है सजाई
मुझको तुम एक बात बता दो
इतने रंग लाये कहाँ से
उस दुकान का पता बतादो
क्रेयौन्स है या वाटर कलर
हम को बस इतना समझा दो
कैसे रँगा फूलों को, जिराफ, ज़ीब्रा चिड़ियों को
मैं भी अच्छी पेंटर बन जाऊँ
पेंटिंग के कुछ गुण सिखा दो


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें