अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
05.31.2008
 

आम बात
प्रवीर कुमार वर्मा


 लोगों ने यह बात फैलाई थी कि,
मंदिर से कोई खाली हाथ नही आता,
जिन्होंने भी फैलाई यह बात,
उसकी बात पूरी सही है,
मंदिर से जूते चप्पल की,
चोरी आम बात थी,
अब तो लड़के लड़की की,
मंदिर से चोरी आम बात है ।


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें