अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
10.21.2007
 
प्रश्न
प्रतिमा भारती

शबनम ...बस
           क़तरा क्यूँ है...।
                          दरिया क्यूँ नहीं......।।
                 दरिया क़तरा क़तरा हो
शबनम क्यूँ न बन जाए ।।


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें