अंन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख्य पृष्ठ

06.04.2014

 
परिचय  
 
नाम : मीना चोपड़ा
जन्म : मीना का जन्म उत्तर भारत में स्थित एक पहाड़ी शहर नैनीताल में हुआ।
शिक्षा : लखनऊ से बी.एस सी. करने के उपरान्त टेक्सटाइल डिज़ाइनिंग में शिक्षा ग्रहण की।
प्रकाशन : मीना का पहला अंग्रेज़ी कविताओं का संकलन इग्नाइटिड लाईन्स १९९६ में इंग्लैंड में लोकार्पित हुआ। इनकी कविताओं का अनुवाद जर्मन भाषा में भी हो चुका है। इनकी कविताएँ अनेक राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय साहित्यिक पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होती रही हैं। २००४ में कैनेडा में प्रवास के पश्चात मिसीसागा (ओण्टेरियो, कैनेडा) के लाइब्रेरी सिस्टम द्वारा आयोजित कविताओं की प्रतियोगिता में इनकी कविताओं को सम्मानित किया गया।
कला और अन्य गतिविधियाँ :

मीना एक कवयित्री होने के साथ-साथ एक चित्रकार भी हैं। अब तक राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर २५ से अधिक कला-प्रदर्शनियाँ लगा चुकी हैं। इन्होंने २००२ में साऊथ एशियन ऐसोसिएशन ऑफ़ रीजनल कोऑपरेशन द्वारा आयोजित कलाकारों की सभा में भारत का प्रतिनिधित्व किया।

मीना कला-क्षेत्र में हमेशा से ही बहुत क्रियाशील रही हैं। भारत में "पोइट्री क्लब" की सचिव रही हैं। इसके अतिरिक्त कई व्यापारिक एवं कला संस्थाओं की सदस्या भी रह चुकी हैं। भारतवर्ष में इनका व्यवसाय "एडवर्टाइज़िंग"  रहा है, जहाँ यह अपनी एडवर्टाइज़िंग एजेन्सी का संचालन करती रही हैं।

कैनेडा आने के बाद इन्होंने कई कलाकारों और कला प्रेमियों को संगठित कर एक कला संस्था का निर्माण किया, जिसका उद्देश्य भिन्न-भिन्न, जन-जातियों के लोगों को कला के द्वार समान स्थल पर लाकर जोड़ना, आपस की भावनाओं और कामनाओं को कला के द्वारा समझना और बाँटना है। कला जो हमेशा से सीमाओं में बंधती नहीं, उसे सीमाओं से आगे ले जाना ही इस संस्था का उद्देश्य है। इस संस्था को "क्रॉस-करंट्स इंडो-कनेडियन इंटरनेशनल आर्टस के नाम से जाना जाता है। यह संस्था २००५ से लगभग दस से अधिक कला समारोह एवं प्रदर्शनियाँ आयोजित कर चुकी है।

मीना चोपड़ा के बनाये हुए चित्र भारत तथा कई अन्य देशों में सरकारी, व्यवसायिक तथा संग्रहकर्ताओं के कला संग्रहों में हैं।

वेबसाईट : http://www.geocities.com/meenachopra2000/