अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
03.15.2015


जब कोई किसी को याद करता है

मैंने सुना है क़ि-
जब कोई किसी को याद करता है
तो आसमान से एक तारा टूट जाता है
लेकिन अब मुझे इस बात पर
यक़ीन बिलकुल भी नहीं है
क्योंकि -

अगर सच में ऐसा होता तो
अब तक सारे तारे टूटकर
जमीन पर आ गए होते
आखिर इतना तो याद
मैंने तुम्हें किया ही है।


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें