अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
07.05.2008
 
सह-आश्रित
कुमार लव

मेरा दिल तुम्हारे गुर्दे से,
मेरा गुर्दा तुम्हारे दिल से
जुड़ गया है।

और
हमारी रगों में
थोड़ा सर्दी का मौसम
अटक गया है।

मैं
ख़ुद में छुप रहा हूँ,
ख़ुद को खा रहा हूँ,
वायरस हूँ।

"सह आश्रित (लगभग परिभाषा) - जो अपने आश्रित की आवश्यकता से अधिक और आमतौर पर अनुचित देखभाल करे"


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें