अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
12.24.2015


चयन

दोनों तरफ
मिल सकता है सुख

इधर अकेले में
जिन्हें नहीं करनी पड़ती कोई लड़ाई
उधर लड़ाई में
शामिल होना पड़ता है
सबके साथ
भीतर-ही-भीतर

रास्ते का चुनाव
तुम्हें करना है


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें