गौतम कुमार सागर

कविता
एक दीया