अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली मुख्य पृष्ठ
02.26.2008
 

राजनीति
फ़ज़ल इमाम मल्लिक


बरसों पहले रावण ने सीता और राम को अलग किया था.... सीता को रावण की क़ैद से छुड़ाने के लिए राम को युद्ध करना पड़ा था... जंग में रावण को शिक्सत दे कर राम ने सीता को फिर से पा लिया था........ उसके बाद बरसों तक सीता और राम साथ-साथ रहे....लोगों के दिल में... ज़बान पर....

लेकिन कुछ सालों से सीता और राम को फिर अलग कर दिया गया है..... अपहरण इस बार राम का हुआ है... सीता उन्हें पाने के लिए छटपटा रही हैं.... लेकिन हनुमान उनकी मदद नहीं कर पा रहे हैं......।


अपनी प्रतिक्रिया लेखक को भेजें