अंन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली

मुख्य पृष्ठ

08.16.2008

 
परिचय  
 
नाम :

प्रो. दिलीप सिंह

जन्म : आठ अगस्त, १९५१ वाराणसी में।
  बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय में उच्च शिक्षा एवं शोध कार्य। समाज भाषा विज्ञान में पीएच.डी.। हिन्दी भाषा के स्तर भेद तथा उसके शैलीय विकल्पनों के गम्भीर अध्येता। हिन्दी की क्षेत्रीय, सामाजिक, साहित्यिक तथा प्रयोजनमूलक शैली भेदों के विश्लेषक भाषाविद्‌।
फ्रांस और अमरीका में हिन्दी शिक्षण। केन्द्रीय हिन्दी संस्थान, आगरा में कार्यानुभव। उच्च शिक्षा और शोध संस्थान, दक्षिण भारत हिन्दी प्रचार सभ के हैदराबाद तथा धारवाड़ केन्द्र में भाषाविज्ञान लेखन। व्यावसायिक हिन्दी, समसामयिक हिन्दी कविता, शैली तत्व:सिद्धान्त और व्यवहार, अनुवाद : अवधारणा और अनुप्रयोग, साहित्येतर अनुवाद विमर्श कुछ चर्चित पुस्तकें। प्रो. रवीन्द्रनाथ श्रीवास्तव के लेखों का सह-सम्पादन हिन्दी भाषा का समाजशास्त्र, अनुप्रयुक्त भाषा विज्ञान, साहित्य का भाषिक चिन्तन। साहित्य्क और साहित्येतर पाठ विश्लेषण पर व्यापक लेखन। पाठ-आलोचना के सिद्धान्त और व्यवहार पर गहरी पकड़ रखने वाले भाषा-चिन्तक।
सम्पर्क :