अंन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली

मुख्य पृष्ठ

09.01.2007

 
परिचय  
 
नाम : सी.आर.राजश्री
 

मेरा नाम श्रीमती सी.आर.राजश्री है। मै हिन्दी प्राध्यापिका के रूप में ६ साल से काम कर रही हूँ।  इससे पहले मैं स्कूल में ५ साल पढ़ा चुकी हूँ । मेरा जन्म दक्षिण भारत के तमिलनाडू प्रांत के कोयम्बत्तूर जिले में 1966 को हुआ, परन्तु पूरी पढ़ाई उत्तर भारत के मध्यप्रदेश प्रांत के भिलाई नगर में हुई है। मैंने हिन्दी में एम.ए. एम.फिल. किया है और अब नागार्जुन की हिन्दी कविताओं पर पी.एच.डी कर रहीं हूँ ।

कविता लिखना, गाना गाना, गाने सुनना साहित्याध्ययन करना मेरा शौक है।

सम्पर्क :