अनिरुद्ध सिंह सेंगर

कविता
इस सदी का बच्चा
ईश्वर की खोज
किसान
गाजर-घास उग आई है, केसर के बागानों में
घरों में आ धमका अमरीका
प्रतिबंध
फुरसतिया प्रदेश
बदनाम लड़की
भय
हार मानूँगा नहीं
दीवान
आपके शहर का काम अच्छा लगा
और क्या था
क्योंकर तुम्हें गुमान है साहिब
जब हमें ख़ुद नहीं है ख़ुद ही का पता
दिल के सोये हुए जज़्बात...
दिल मिरा ये सोचकर हैरान है
वो पहली मुलाक़ात थी और क्या था
हम क्या बताएँ कैसे