आकांक्षा यादव


कविता

२१वीं सदी की बेटी
एक लड़की
एस० एम० एस०
मातृत्व
मैं अजन्मी

आलेख

खो रहा है बचपन
लोक चेतना में स्वाधीनता की लय

लघुकथा

माँ का मर्म