ले अहमद सरूर 


नज़्म

कल और आज