अन्तरजाल पर साहित्य प्रेमियों की विश्राम स्थली
ISSN 2292-9754

मुख पृष्ठ
02.02.2017

आलेख

, , , , , , , , , क्ष, ख्, , , , , , ज्ञ, , , , , , , त्र, , , , , , , , , म, , , , , श-ष, श्र-शृ, , ,

     
इसी बहाने से (आलेख शृंखला)    
साहित्य की परिभाषा
साहित्य का उद्देश्य -१
साहित्य का उद्देश्य -२
साहित्य का उद्देश्य -३

लिखने की सार्थकता और सार्थक लेखन
भक्ति: उद्‌भव और विकास-१
भक्ति: उद्‌भव और विकास-२
भक्ति: उद्‌भव और विकास-३

कविता, तुम क्या कहती हो- 1
कविता, तू कहाँ-कहाँ रहती है?- 2
भारतेतर देशों में हिन्दी- 3
हिन्दी साहित्य सृजन - 4
मेपल तले, कविता पले - 5
मेपल तले, कविता पले - 6
समीक्षा - 7
   
अंतर्राष्ट्रीय रंगमंच और सिनेमा के चहेते कलाकार सईद जाफ़री की स्मृति में
अंध विश्वास
अज्ञेय कृत "शेखर - एक जीवनी" का पुनर्पाठ
अणु
अपराजेय कथाशिल्पी शरतचंद्र और देवदास
(देवदास के प्रकाशन के सौ वर्ष के संदर्भ में)
अमेरिकी माफ़िया और अंडरवर्ल्ड पर आधारित उपन्यास: गॉड फ़ादर (The Godfather)
अमृता प्रीतम : एक श्रद्धाँजलि
"अंतिम अरण्य" के बहाने निर्मल वर्मा के साहित्य पर एक दृष्टि

अनारा दीदी का झमेल
असफलता
अस्पृश्यता के कट्टर विरोधी पं. गोविन्द बल्लभ पंत
१८५७ की क्रान्ति का प्रथम शहीद : मंगल पाण्डे
अहसास (ललित नि्बन्ध)
असहजता से मिलती है
    - ऊपर
   
आकाशवाणी का तब
आकाशवाणी का तब?
प्रधान मंत्री का सन्देश
आखिर कब लगेगा नशों पर अंकुश?
आचरण का गोमुख
आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदीः कुछ सूत्र

आज़ाद भारत का आगाज़
आदमी (अनेकार्थता)
आदिवासी जीवन संघर्ष का मूल कारण "अशिक्षा" ("टीस" कहानी के आधार पर)
आधुनिक गद्य गीत शैली के जनकश्री बालकृष्ण भट्ट

आभाओं के उस विदा-काल में
आसमान से गिरे खजूर पे

ऑस्कर वाइल्ड
    - ऊपर
   
इंग्लैंड के महान उपन्यासकार चार्ल्स डिकेंस की अमर कृति "ग्रेट एक्सपेक्टेशन्स"
इंटरनेट एवं स्थानीय भाषाएँ
२१वीं सदी में स्त्री समाज के बदलते सरोकार
इन्दु जैन ... मेधा और सृजन का योग...
इतिहास का एक अनजाना पृष्ठ - कन्यादाह
इसी बहाने से (साहित्य का उद्देश्य)
    - ऊपर
   
     
    - ऊपर
   
उड़त गुलाल लाल भयो अंबर : होली का त्यौहार उर्दू के खु़दा-ए-सुख़न - मीर उफ़! ये किशोर
    - ऊपर
   
     
    - ऊपर
   
एक ख़त ख़ुदा के नाम
"एक कहानी यह भी"
एक पुस्तकालय के भीतर
एक शिक्षक की सेवा निवृति
एक विद्रोही शायर- फ़ैज़
एमिली ब्राँटे का कालजयी उपन्यास "वुदरिंग हाइट्स"
    - ऊपर
   
ऐतिहासिक दृष्टि से भारतीय स्वतंत्रता आन्दोलन में बुन्देलखण्ड के योगदान का मूल्यांकन    
    - ऊपर
   
     
    - ऊपर
   
     
    - ऊपर
   
कब जायेगी इस गाँव से असभ्यता
कबीर के राम बनाम निर्गुण ब्रह्म की अवधारणा
कभी न ख़त्म होने वाला सफ़र

कविता, तू कहाँ-कहाँ रहती है?
कविता, तुम क्या कहती हो!!
कश्मीर के कृष्ण-भक्त कवि परमानंद
काशी : सकल-सुमंगलरासी
किन्नर समुदाय का अपमान
किसी की आँख खुल गयी/किसी को नींद आ गयी
कैला देवी का मेला : गीत और संगीत की गूँज
कैलाश-मानसरोवर यात्रा
कैलाश सत्यार्थी को नोबल पुरस्कार
कैसे मनाते हैं होली, हिन्दी सोसाइटी, सिंगापुर के बच्चे
    - ऊपर
क्ष    
     
    - ऊपर
   
खो रहा है बचपन    
    - ऊपर
ग़ज़ल ए कला -१
एक परिचय - दूसरा भाग

ग़ज़ल क्या, कब, क्यों और कैसे?
ग़ज़ल एक गेय कविता-  ४
गणेश शंकर विद्यार्थी का अद्‌भुत प्रताप
गद्यकार महादेवी वर्मा और नारी विमर्श
गीतः लोक जीवन-स्पन्दन की कलात्मक अभिव्यक्ति
'गॉन विथ द विद' - एक कालजयी उपन्यास और सिनेमा
गोस्वामी तुलसीदास के तीन रूप
- ऊपर
   
घर की चिड़ियाँ और हम    
    - ऊपर
   
चश्मे का रंग
चीन के कृषक जीवन की त्रासदी "द गुड अर्थ"
चीन में बारिश का रोमांच चुटकुले का समाजशास्त्र
- ऊपर
   
     
    - ऊपर
   
जनता का शायर - नज़ीर
जयशंकर प्रसाद की लघुकथाएँ
जातिसूचक शब्दों का यथार्थता
जामुन का पेड़(ललित निबन्ध)
जैनेन्द्र कुमार और हिन्दी साहित्य
    - ऊपर
ज्ञ    
     
    - ऊपर
   
     
- ऊपर

   
टॉलस्टाय की 'अन्ना केरेनिना' : कालजयी उपन्यास और अमर फिल्म     
    - ऊपर
   
     
    - ऊपर
   
डॉ. विमला भण्डारी का काव्य-संसार
"डॉ. हरिवंश राय बच्चन की आत्मकथा: 'क्या भूलूँ क्या याद करूँ' से 'दशद्वार से सोपान तक' का सफर"  
    - ऊपर
   
     
    - ऊपर
   
'तलछट' से निकले हुए एक महान कथाकार ताज की वर्षगाँठ तुलसी के राम
- ऊपर
त्र    
त्रिलोचन शास्त्री    
    - ऊपर
   
     
    - ऊपर
   
दक्खिनी हिंदी की परंपरा : ऐब न राखें हिंदी बोल
दलित-वैचारिकी में गाँधी विरोध - क्या तथ्य, क्या कुतर्क

द्वितीय महायुद्ध में नस्लवादी हिंसा का दस्तावेज़ : शिन्ड्लर्स लिस्ट
दावा और हकीकत : पूजते हैं
 देवी
, मारते हैं बेटि
दासप्रथा का प्रथम क्रांतिकारी विद्रोही - स्पार्टाकस
दीपावली बहु आयामी पर्व
देश से दूर दो नैन
    - ऊपर
   
धर्म और धर्मांधता के बीच    
    - ऊपर
   

न सावन, न सावन के झूले
नई कहानी के संस्थापक राजेंद्र यादव
नचारी : एक मनमोहक लोक-विधा

नर्मदा की जुबानी प्रदूषण की कहानी

नवगीत और देश
नव वर्ष और संकल्प

नागार्जुन : एक दृष्टिकोण
नागार्जुन की भाषा
नाट्य पठन और लेखन के तौर तरीके
नयी कविता और भवानी प्रसाद मिश्र
निराला एवं उनकी परवर्ती कविता में मुक्तिगान
नरेश सक्सेना - गिरना से लेखन का उठना तय हुआ है
नेह एवं आत्मीयता की भाषा : राष्ट्रभाषा हिन्दी
    - ऊपर
   
परम्पराएँ प्रसारण की
परम्पराएँ प्रसारण की (2) दो छोर
परम्पराएँ प्रसारण की (3) पी.सी. चटर्जी
परम्पराएँ प्रसारण की (4) आपात काल
परम्पराएँ प्रसारण की (5): रोहतक केंद्र
प्रगति की प्रस्तावना
प्रवासी महाकवि आदेश कृत - प्रथम भारतेतर महाकाव्य अनुराग के विषय में
प्रेम बहती हुई नदी है
पश्चिम का प्रथम हिंदी तीर्थ - त्रिनिदाद का एरी गाँव
पुरुषवादी मानसिकता का बर्बर रूप
पूर्वांचल भारत के पारंपरिक नाट्य रूप
प्रेमचन्द की लघु रचनाएँ : लघुकथा की कसौटी पर
प्रेमचंद साहित्य में मध्यवर्गीयता की पहचान
"पार्वती" महाकाव्य के प्रणेता - डॉ, रामानन्द तिवारी
पुरुष के जीवन में स्त्री की पात्रता
पौराणिक ऐतिहासिक नगरी अपराकाशीः फर्रूखाबाद
    - ऊपर
   
फ़्योदोर दोस्तोयेव्स्की की अमर औपन्यासिक कृति "ब्रदर्स कारामाज़ोव" फुटपाथ और पगडण्डी
प्रकृति की अनुपम देन.. फूलों की घाटी
फ्रांसीसी राज्य क्रान्ति और यूरोपीय नवजागरण की अंतरकथा : ए टेल ऑफ़ टू सिटीज़
    - ऊपर
   
बच्चे और किताबें
बनारस के बुनकरों की वर्तमान स्थिति
बाथ टब की होली
बुद्धि और विद्या के लोक-देव : गणेश
बृज में हिन्डोलों की छटा : सावन के झूले पड़े
"बेन-हर" (BEN-HUR) रोम का साम्राज्यवाद और सूली पर ईसा मसीह का करुण अंत
: साहित्य और सिनेमा

बैकुण्ठ हो गया दादा जी को
बोरिस पास्टरनाक की अमर कृति 'डॉ. ज़िवागो' : साहित्य और सिनेमा
ब्राह्मणवादी व्यवस्था के ख़िलाफ़ आंदोलन है छठ महापर्व
- ऊपर
   
भक्ति: उद्‌भव और विकास-१
भक्ति: उद्‌भव और विकास-२
भक्ति: उद्‌भव और विकास-३
भगवान से चैट
भविष्य को संवारें - कलियों को मुस्कुराने दें!
भार चिन्ता का
भारत में भारतीय भाषाओं का सम्मान और विकास
भारतीय अमेरिकन युवा
भारतीय चिंतन परंपरा और सप्तपर्णा

भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन और ग़दर पार्टी
भारतीय-संस्कृति का आख्यान - भारत-भारती
भारतीय संस्कृति की गहरी समझ
भारतीय संस्कृति में होली के विभिन्न रंग
भारतीय साहित्य में अनुवाद की भूमिका
भारतीय साहित्य में दलित विमर्श : मणिपुरी समाज का संदर्भ

भारतीय सिनेमा और रवीन्द्रनाथ टैगोर
भारतीय सिनेमा को तेलुगु फिल्मों का प्रदेय
भारतीय सिनेमा में 'समांतर' और 'नई लहर (न्यू वेव)' सिनेमा का स्वरूप
भाषा एक संस्कार है
भाषा सीमाओं में और सीमाओं से परे - एक विचार
भूमंडलीकरण के दौर में साहित्य के सरोकार
भूमण्डलीकरण के दौर में हिन्दी

भूमंडलीकृत बाज़ार और भाषाएँ
भोजपुरी लोकगीतों में नारी की प्रासंगिकता
भोजपुरी लोकगीतों में पर्यावरण
    - ऊपर
   
मंटो - नामी कहानियों का बदनाम कथाकार
मख़्दूम मोइउद्दीन जन्म शताब्दी
मगहर का संत
मध्य रात्रि के सूरज की धरती (उत्तरी नार्वे)
मन
मनुस्मृति के बहाने
महात्मा गांधी के अंतिम दिन
महादेवी का साधना दीप
महादेवी वर्मा की शृंखला की कड़ियों में स्त्री विमर्श की अवधारणा एवम चिंतन परम्परा.
महाभारत: एक सर्जनात्मक महाकाव्य
मातृ भाषा नहीं राष्ट्र भाषा है.
मातृभाषा बनाम अँग्रेज़ी माध्यम में पढ़ाई
मानव प्रजाति की खोज में...
महिला दिवस/मौन की संस्कृति
मिथिला में लोक नाट्यों की परंपरा
मेरी कानपुर यात्
मेरी घरेलू लाइब्रेरीरा

मेरी हवाओं में रहेगी, ख़यालों की बिजली
मैं यहाँ फिर आऊँगा - अली सरदार जाफ़री
मौलिक सृजन: अनुवाद और अनुवाद प्रक्रिया
मत्लों में काफ़िये - भाग ५
महिला उत्पीड़न के समाजशास्त्रीय एवम् मनोवैज्ञानिक आयाम
    - ऊपर
   
यदि कोई पूछे तो ......
युद्धबंदी सैनिकों के स्वाभिमान और राष्ट्रप्रेम की अनूठी कहानी : "द ब्रिज ऑन द रिवर क्वाई" ये तो होता ही है
    - ऊपर
   
रँग गई पग-पग धन्य धरा
रहीम : जीवनानुभूति का सच्चा पथिक
राखी : छोटा सा रंग-बिरंगा धागा
राजभाषा हिन्दी: दशा एवं दिशा
राजस्थानी साहित्य में झलकता देश प्रेम
रावण रथी विरथ रघुवीरा
राष्ट्रीय नेतृत्व का संकट
रूपं देहि, जयं देहि (म्य रचना)
रेवतीसरन शर्मा रचित चिराग़ की लौ नाटक में व्यवस्था का प्रश्न
    - ऊपर
   
लोक संस्कृति की लय है कजरी
लोकजीवन के अन्यतम चितेरे : कविवर बाबा त्रिलोचन
लोक संस्कृति का पावन पर्व - 'होली'
लघुकथा संचेतना एवं अभिव्यक्ति
लघुकथा की प्रासंगिकता एवं उपादेयता
लघुकथा की रचना-प्रक्रिया
लिखने की सार्थकता और सार्थक लेखन
    - ऊपर
   
वर्तमान परिप्रेक्ष्य में राष्ट्रीय एकता एवं सामाजिक न्याय के लिए बौद्धधम्म की सार्थकता
वर्तमान सन्दर्भ में किन्नर..
वसंत बास चुन-चुन के चुनरी बँधे : दक्खिनी हिंदी काव्य संचयन
विज्ञापन की भाषा बनाम साहित्यिक भाषा
विभाजन के बाद सिंधी लेखिकाओं का सिंधी साहित्य में संघर्ष
विराम-चिह्न की आत्मकथा
विश्व कथा साहित्य की अनमोल धरोहर "ले मिज़रेबल्स" - साहित्य और सिनेमा
विश्व की महान औपन्यासिक कृति वार एंड पीस (युद्ध और शांति)
विश्व के कतिपय नव वर्ष तथा हिन्दू नव वर्ष
विश्व के महान कहानीकार : अंतोन चेखव
विश्वास के साथ ही जीना
वे विलक्षण थे क्योंकि वे साधारण थे!
वीरता बोलती है..और गौरव
गूँजता है - वीरता और स्वाभिमान की अमर ज्योति- महाराणा प्रताप

वेलेन्टाइन-डे की सार्थकता
वेदों में वृक्ष संस्कृति (पर्यावरण) की अवधारणा : करना होगा
वैदिक संस्कृति का सम्मान
वैदिक साहित्य में पर्यावरण: करना होगा वैदिक संस्कृति का सम्मान
वैश्वीकरण में किसान और बैल : संदर्भ बाज़ार में रामधन
व्यंग्य : कथन की शैली बनाम साहित्य-विधा
वैश्वीकरण के परिदृश्य में अनुवाद की भूमिका

वो बल्ख न बुखारे
    - ऊपर
श-ष    
शक्ति और अभिव्यक्ति
शहरों का शहर बनारस

शॉर्लट ब्रांटे की अमर कथाकृति : जेन एयर
शाश्वत सत्य को रेखांकित करता कविता संग्रह शिप्रा नदी
शीशों का मसीहा फ़ैज़
    - ऊपर
श्र-शृ    
     
    - ऊपर
   
संचार क्रान्ति और हम
संजीव कुमार
संत रविदास : सामाजिक परिप्रेक्ष्य में एक विवेचना
"सन्तोष" एक सोच
संत-साहित्य के सामाजिक आदर्श एवं आज का युग
संप्रेषण का एक आसान माध्यम: ब्लॉगिंग
संउसे सहरिया रंग से भरी, बनाम भोजपुरी अंचल की होली
सच क्या था - एक सार्थक कृति
समरसता का दूसरा नाम है होली
समकालीन साहित्य परिदृश्य : हिन्दी कविता

समर्थ शिक्षा एवम् वर्तमान शिक्षा
समाचार पत्रों में हिंदी भाषा
समाचारपत्रों से विलुप्त होता साहित्य
सत्य-असत्य
स्वप्नदर्शी बाल-साहित्यकार सम्मेलन

स्वस्थ और सुखी जीवन का प्रतीक पर्व : दीपावली
स्वप्न से साक्षात्कार
स्वामी विवेकानन्द - युग पुरुष
साहित्य का नोबेल पुरस्कार - २०१४
सांप्रदायिकता से जूझते अफ़सानानिगार मंटो
सामण मइनो आयो राज
स्विटज़रलैंड में शातो द लाविनी की अनोखी अनुभूतियाँ 
साझी विरासत की कड़ी थीं कुर्रतुल ऐन हैदर
सामाजिक मूल्य और नीरज के फिल्मी गीत
साहित्य की परिभाषा
साहित्य का उद्देश्य -१
साहित्य का उद्देश्य -२
साहित्य का उद्देश्य -३
साहित्य के स्वाद से साहित्य के मर्म तक
सूर के रामकाव्य में वात्सल्य वर्णन
सूर्य की किरणें
सोशल साईट्स और लोकव्यवहार
सौ साल की दिल्ली और हिंदी कविता
स्त्री चिंतन परम्परा की प्रासंगिकता एवं सामाजिक परिप्रेक्ष्य
स्त्री सरोकारों से जुड़ा हिंदी सिनेमा
स्वामी विवेकानन्द के अनमोल वचन
    - ऊपर
   
हमारा ज़माना
हिन्दी कहानी से प्रवासी हिन्दी कहानी.....एक मूल्य यात्रा
हिन्दी का वाणिज्यिकरण
हिंदी काव्य-नाटक और युगबोध 
हिंदी के लिए लिपि - रोमन अथवा देवनागरी
हिन्दी के शेक्सपीयर, तमिल भाषी
हिंदी के हिंडोले में जरा तो बैठ जाइए
हिन्दी-ग़ज़ल को ग़ज़ल से भिन्न विधा माने
हिंदी दिवस पर एक हल्का- फुल्का आलेख
हिंदी फिल्में और सामाजिक सरोकार
हिंदी सिनेमा के विकास में फ़िल्म निर्माण संस्थाओं की भूमिका भाग - 1
हिंदी सिनेमा के विकास में फ़िल्म निर्माण संस्थाओं की भूमिका भाग - 2
हिंदी भाषा के विकास में पत्र-पत्रिकाओं का योगदान
हिंदी भाषा चिंतन : विरासत से विस्तार तक

हिन्दी समालोचना : समस्याएँ एवं समाधान
हिन्दी-हाइकु में शीत ॠतु वर्णन
हिमालय अदृष्य हो गया
हिन्दी साधक- रांगेय राघव
हिन्दी साहित्य में चातक (पपीहा) की लोकप्रियता
हिन्दी लघुकथा: बढ़ते चरण
होता जो हनीमून नेपाल में
होली का त्यौहार : उड़त गुलाल लाल भयो अंबर
होली खेलो बरजोरी
- ऊपर
   

 

    - ऊपर